Rating:
0
बैशाख की धूप

बैशाख की धूप

उपन्यास

by अनिल कुमार सहनी (write a review)
Type: Print Book
Genre: Drama/Play
Language: Hindi
Price: Rs.256.00 + shipping
Preview
Price: Rs.256.00 + shipping

Processed in 3-5 business days. Shipping Time Extra
Description of "बैशाख की धूप"

यह उपन्यास "बैशाख की धुप " एक गाँव की कहानी है / एक बेबस लाचार बिना माँ बाप के जमुना की कहानी है / जो एक कोर दाल भात या एक कोना सुखी रोटी के लिए गाँव का पुकारू नौकर रहता है / गाँव का बैजू काका और ललमटिया काकी के यहाँ दिन रात पड़ा रहता है / बैजू काका तो उसे प्यार करते हैं मगर बाँझ ललमटिया उसे तनिक भी प्यार नहीं करती / एक जून की रोटी जमा करना उसके जीवन की अहम् हिस्सा है और कष्ट भरा जिंदगी ही उसके जीने का आधार / यह गाँव के सच्चे जीवन पर आधारित कहानी है / यह गाँव के जीवन के हर दर्द और ख़ुशी के लम्हो का व्यान करती है /

About the author(s)

लेखक "अनिल कुमार सहनी" एक संजीदा चित्रों का चित्रण करते हैं / गाँव के परिवेश में बच्पन गुजार कर आज इंजीनियरिंग ग्रेजुएट हैं / इसलिए समाज के हर वर्ग के फासले को अपने कलम के माध्यम से मिटाने की तम्मना रखते हैं और उसी और अग्रसर हैं /

Book Details
Number of Pages: 
115
Dimensions: 
A4
Interior Pages: Black & White
Binding: Paperback (Perfect Binding)
Availability: In Stock (Print on Demand)
Other Books in Drama/Play
Don kei Ghar Mei Kaun?
Don kei Ghar Mei Kaun?
by Neeraj Kumar Hastings
Shahi Funeral
Shahi Funeral
by Lokesh Paliwal
Please Come to My Desk
Please Come to My Desk
by Deepanjan Paul
And Miles To Go.......
And Miles To Go.......
by Atul Sharma
Reviews of "बैशाख की धूप"
No Reviews Yet! Write the first one!

Payment Options

Payment options available are Credit Card, Indian Debit Card, Indian Internet Banking, Electronic Transfer to Bank Account, Check/Demand Draft. The details are available here.