Rating:
0
अगड़म- बगड़म (eBook)

अगड़म- बगड़म (eBook)

अब गम खतम

by नीरज पाल (write a review)
Type: e-book
Genre: Poetry
Language: Hindi
Price: Rs.50.00
Available Formats: PDF Immediate Download on Full Payment
Preview
Description of "अगड़म- बगड़म (eBook)"

इस किताब में कविता हास्य व्यंग, करुणा, ओज और फिलॉसफी के अजब गज़ब लिबास में दिखेगी। कम शब्दों में कहूँ तो टोटल पैसा वसूल है.
वार्निंग: इस किताब को पढ़ने से पहले टेंशन को पेंशन लेने भेज दीजिये।
* हंसी ख़ुशी और ज़िंदगी के हित में जारी.

About the author(s)

परिचय

ज़िंदगी के स्कूल में वक़्त को गुरु बनाया है.
मुझे पता है की सब छलावा है सब माया है
नाम है मेरा नीरज पाल, मै आपकी बात लिखता हूँ,
सबूत बोलते हैं की मै अक्सर खुराफात लिखता हूँ ,
कानपूर से लखनऊ फिर दिल्ली और गुडगाँव रहा
अब मुंबई ही मेरा ठिकाना है,
लाइफ ओके चैनल में काम करता हूँ,
पर असली काम गम को ठिकाने लगाना है

Book Details
Availability: Available for Download (e-book)
Other Books in Poetry
Libaas
Libaas
by Vivek Roy
Dinesh
Dinesh
by Shri Dinesh Chandra Jha
Rhythms in my heart
Rhythms in my heart
by Dhruthik Shankar
Bhajan Sangraha
Bhajan Sangraha
by Indu Mishra
Reviews of "अगड़म- बगड़म (eBook)"
No Reviews Yet! Write the first one!

Payment Options

Payment options available are Credit Card, Indian Debit Card, Indian Internet Banking, Electronic Transfer to Bank Account, Check/Demand Draft. The details are available here.