Rating:
5
shor ( kavita sangrah ) (eBook)

shor ( kavita sangrah ) (eBook)

शोर ( कविता संग्रह )

by भूपेन्द्र कुमार जायसवाल (1 review, add another)
Type: e-book
Genre: Poetry
Language: Hindi
Price: Rs.0.00
Available Formats: PDF
Preview
Description of "shor ( kavita sangrah ) (eBook)"

इस किताब में अन्ना आन्दोलन से प्रेरित होकर लिखी गई कविताओं का संग्रह है जो लोगो को जगाने के लिए लिखी गई है । आज का आम आदमी भ्रष्टाचार और महंगाई से त्रस्त है । एक आम आदमी के भावनाओं से निकली यह किताब आशा करता हूँ आपको भी पसंद आएगी ।

About the author(s)

भूपेन्द्र कुमार जायसवाल
बी.एस-सी गणित, एम ए राजनिती, एम ए अर्थशास्त्र,
बाल्को कर्मचारी , आम आदमी पार्टी जिला संयोजक । अन्ना आन्दोलन में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया ।

Book Details
Availability: Available for Download (e-book)
Other Books in Poetry
RAMBLINGS
RAMBLINGS
by C M RAJAN
आखिरी ख़त | Aakhiri Khat
आखिरी ख़त | Aakhiri Khat
by अमित भटनागर ‘मितवा’
Sneh Sindhu
Sneh Sindhu
by uudhou
A Gang of Five
A Gang of Five
by Sabarna Roy
Reviews of "shor ( kavita sangrah ) (eBook)"
Write another review

Comments

Re: shor ( kavita sangrah ) (e-book) by saurabh05021992
15 March 2015 - 11:16pm

बहुत ही बढ़िया .... मजा आ गया पढ़ कर ...देश की सबसे बड़ी समस्या भ्रष्टाचार और महंगाई जैसे मुद्दों का कड़ा विरोध किया गया है........आप भी पढ़े..

Payment Options

Payment options available are Credit Card, Indian Debit Card, Indian Internet Banking, Electronic Transfer to Bank Account, Check/Demand Draft. The details are available here.