Rating:
0
MahaLeela in Hindi (eBook)

MahaLeela in Hindi (eBook)

नाटक संग्रह

by Harsh Arora (write a review)
Type: e-book
Genre: Drama/Play, Literature & Fiction
Language: Hindi
Price: Rs.0.00
Available Formats: PDF
Preview
Description of "MahaLeela in Hindi (eBook)"

रामायण, महाभारत और पुराण धर्मग्रन्थ हैं या साहित्य?

धर्मग्रन्थ पाठकों को कुछ पूर्व निर्धारित विचारधाराओं में विश्वास करने के लिए प्रेरित करते हैं। अक्सर यह माना जाता है कि वे ईश्वर की देन हैं और कोई मनुष्य उनमें परिवर्तन नहीं कर सकता।

इसके विपरीत, साहित्य पाठकों को स्वतन्त्र रूप से पुनर्विचार के लिए प्रेरित करता है।

तुलसीदास ने अपनी कल्पना से वाल्मीकि की साहित्यिक रामायण को रामचरितमानस में एक धर्मग्रन्थ का रूप दिया था।

इस पुस्तक के नाटक रामायण, महाभारत और पुराणों को प्रतिभाशाली साहित्य मानते हैं। यह उन पाठकों के लिए हैं जिनमें नाटकों के बारे में सोच कर अपनी व्यक्तिगत राय प्रकट करने की क्षमता है।

About the author(s)

हर्ष अरोड़ा का जन्म भारत में हुआ था। उन्होंने दिल्ली की आईआईटी और बर्कले की कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में अध्ययन किया। हर्ष ने भारतीय पौराणिक कथाओं पर आधारित कई नाटकों का मंचन किया है। उनकी पहली पुस्तक Undesired Duty महाभारत युग के दौरान रहने वाले आम आदमी के नजरिए से लिखी गई है। महालीला उनकी दूसरी पुस्तक है। उनके दो बेटे हैं और वो बीवर्टन, औरिगन में अपनी पत्नी, नूतन के साथ रहते हैं।

Book Details
Availability: Available for Download (e-book)
Other Books in Drama/Play, Literature & Fiction
আরণ্যক ( Aranyak )
আরণ্যক ( Aranyak )
by Bibhutibhushan Bandyopadhyay
मरुतृण  साहित्य -पत्रिका
मरुतृण साहित्य -पत्रिका
by सत्य प्रकाश 'भारतीय'
Reviews of "MahaLeela in Hindi (eBook)"
No Reviews Yet! Write the first one!

Payment Options

Payment options available are Credit Card, Indian Debit Card, Indian Internet Banking, Electronic Transfer to Bank Account, Check/Demand Draft. The details are available here.