Rating:
0
जिंदगी के दो पल: आज और कल

जिंदगी के दो पल: आज और कल

by शशिकांत निशांत शर्मा 'साहिल' (write a review)
Type: Print Book
Genre: Poetry
Language: Hindi
Price: Rs.295.00 + shipping
Preview
Price: Rs.295.00 + shipping

Processed in 3-5 business days. Shipping Time Extra
Description of "जिंदगी के दो पल: आज और कल"

यह एक काव्य संग्रह है जिसमे कवि ने अपने नव यौवन मन के एहसासों को कविता के माध्यम से प्रस्तुत किया है. कवि का कविता पे पूरा अधिकार है. कवि ने हर मनो दशा पे कवितायेँ लिखी है जो इस काव्य संग्रह में मिल जाएगी. कवि अपनी बात सहज और काव्यात्मक तरीके से कहने में सफल रहा है. आशा करता हूँ की आप भी इस काव्य संग्रह को पसंद करेंगे. यह काव्य संग्रह एक नए कवि और लेखक की पहली हिंदी काव्य संग्रह है जो प्रकाशित हुई है.

About the author(s)

शशिकांत निशांत शर्मा ‘साहिल’ एक बहु प्रतिभाशाली लेखक व् कवि है. इनकी कई किताबें हिंदी और अंग्रेगी में प्रकाशित हो चुकी है. ये पिछले कई वर्षों से लेखन कार्य में संलग्न है. इनकी कवितायेँ और समकालीन घटनाओं पे लिखी लेखों पर आये दिन पाठकों का पत्र आते ही रहता है. इनकी कवितायेँ और लेख इन्टरनेट पर आसानी से उपलब्ध है. ये लगभग ५००० गीत, ग़ज़ल और कवितायेँ लिख चुकें है. इनकी पहली पुस्तक अंग्रेगी में प्रकाशित हुई २०१२ में जिसका नाम है “पोएट्री ओं रियल लाइफ एक्ष्पेरिएन्केस”. इनकी हिंदी में प्रकाशित किताबों में ‘नयें एहसास के पौधें’ और ‘जिंदगी: आज और कल’ काफी पसंद किया गया है.

Book Details
ISBN: 
9789351046394
Publisher: 
SureShot POST Online Publishing
Number of Pages: 
92
Dimensions: 
5.5 inch x 8.5 inch
Interior Pages: Black & White
Binding: Paperback (Perfect Binding)
Availability: In Stock (Print on Demand)
Other Books in Poetry
Noorana-e2
Noorana-e2
by Sopaan Noor
Nether Issue III
Nether Issue III
by nether Books
Poetry for Children
Poetry for Children
by Shashikant Nishant Sharma
From My Heart
From My Heart
by Lakshmi Krishnadas Pai
Reviews of "जिंदगी के दो पल: आज और कल"
No Reviews Yet! Write the first one!

Payment Options

Payment options available are Credit Card, Indian Debit Card, Indian Internet Banking, Electronic Transfer to Bank Account, Check/Demand Draft. The details are available here.