Rating:
0
योग मत करो , योगी बनो  (eBook)
Type: e-book
Genre: Religion & Spirituality, Self-Improvement
Language: Hindi
Price: Rs.75.00
Available Formats: PDF Immediate Download on Full Payment
Preview
Description of "योग मत करो , योगी बनो (eBook)"

अगर आप इन प्रश्नों के उत्तर खोज रहे हैं -

 योग की इतनी सारी विधियाँ क्यों है?
 योग की कौन सी तकनीक मेरे लिए उपयुक्त है?
 योग का जन्म कैसे हुआ और यह अपनी वर्तमान अवस्था में कैसे पहुंचा?
 योग के सिद्धांतों को एक आम आदमी अपनी रोजमर्रा की ज़िन्दगी में कैसे इस्तेमाल कर सकता है?
 योग के आठ अंग (महर्षि पातंजलि द्वारा बताये अष्टांग योग) क्या हैं?
 कुण्डलिनी शक्ति क्या है?
 शरीर में बताये गए सात चक्रों का रहस्य क्या है?
 कर्म योग,भक्ति योग और ज्ञान योग में क्या अंतर है?
 योगी और आम आदमी के व्यवहार में क्या अंतर है?
तो यह पुस्तक आपकी सहायता कर सकती है

About the author(s)

रुड़की विश्विद्यालय (अब आई आई टी रुड़की ) से इंजीयरिंग की और २२ साल तक भारतीय सेना की ई.ऍम.ई. कोर में कार्य करने के बाद ले.कर्नल के रैंक से रिटायरमेंट लिया . चार निजी क्षेत्र की कंपनियों में भी कुछ समय के लिए काम किया.
पढने के शौक ने धीरे धीरे लिखने की आदत लगा दी . बचपन में कुछ रचनायें ‘पराग’, ‘साप्ताहिक हिन्दुस्तान’, ‘अमर उजाला’, ‘नवनीत’ आदि पत्रिकाओं में छपी थीं.
अपना ब्लॉग मेरे घर आना जिंदगी (http://meregharanajindagi.blogspot.in/ ) पिछले कई सालों से लिख रहे हैं.

Book Details
Publisher: 
Deepak Dixit
Availability: Available for Download (e-book)
Other Books in Religion & Spirituality, Self-Improvement
Mritatmaon Se Sampark
Mritatmaon Se Sampark
by Arun Kumar Sharma
Reviews of "योग मत करो , योगी बनो (eBook)"
No Reviews Yet! Write the first one!

Payment Options

Payment options available are Credit Card, Indian Debit Card, Indian Internet Banking, Electronic Transfer to Bank Account, Check/Demand Draft. The details are available here.