Rating:
5
कर्मचारी सबसे बड़ी पूंजी

कर्मचारी सबसे बड़ी पूंजी

मानव संसाधन प्रबंधन के परिप्रेक्ष्य में आज का व्यापारिक वातावरण और भारतीय सरकारी प्रतिष्टान

by हेम चन्द्र कुकरेती (1 review, add another)
Type: Print Book
Genre: Business & Economics, Self-Improvement
Language: Hindi
Price: Rs.140.00 + shipping
Preview
Price: Rs.140.00 + shipping

Processed in 3-5 business days. Shipping Time Extra
Description of "कर्मचारी सबसे बड़ी पूंजी"

किसी निजी संसथान तथा सरकारी संस्थान में प्रवेश करते ही हमें कार्य वातावरण, क्षमता, गति, गुणवत्ता, उर्जा, तथा सबसे ऊपर वहां के कर्मचारियों के चेहरे के तेज में अंतर दृष्टिगोचर होता है. क्या आप जानते हैं वही व्यक्ति अलग-अलग संस्थानों में अलग-अलग प्रकार से कार्य प्रदर्शन क्यों करता है? सरकारी प्रतिष्टानों के कर्मचारी अपनी कार्य क्षमता से कार्य क्यों नहीं कर पाते? यह पुस्तक वहां के मानव संसाधन प्रबंध से सम्बंधित कमियां तथा उनका समाधान निकलने का एक प्रयास है.

About the author(s)

विभिन्न निजी तथा एक प्रतिष्ठित सार्वजनिक प्रतिष्ठान में लम्बे समय से कार्यरत. विज्ञानं तथा अंग्रेजी साहित्य में स्नातक के आलावा व्यवसाय प्रशाशन में निष्णात, जनसंपर्क व प्रचार में स्नातकोत्तर डिप्लोमा तथा संभार तंत्र में डिप्लोमा. भारतीय उद्योग परिसंघ, हिंदुस्तान मीडिया तथा बी ई एल द्वारा सृजन व कौशल के क्षेत्र में सम्मनित.

Book Details
ISBN: 
9789351264385
Number of Pages: 
72
Dimensions: 
5 inch x 7 inch
Interior Pages: Black & White
Binding: Paperback (Perfect Binding)
Availability: In Stock (Print on Demand)
Other Books in Business & Economics, Self-Improvement
Be a B.A.
Be a B.A.
by Subhashis Panda
Reviews of "कर्मचारी सबसे बड़ी पूंजी"
Write another review

यह पुस्तक, अंग्रेजी पुस्तक "To BE or not to BE" (by Hem Chandra Kukreti) का हिंदी रूपांतरण है.

Payment Options

Payment options available are Credit Card, Indian Debit Card, Indian Internet Banking, Electronic Transfer to Bank Account, Check/Demand Draft. The details are available here.